राजधानी भोपाल सहित मध्यप्रदेश के कई जिलों में फिर बरसे बदरा




भोपाल। लंबे समय तक भट्टी की तरफ तपे शहर के लोगों के लिए शनिवार का दिन भी राहत भरा है। आज भी भोपाल के कई इलाकों में तेज बारिश हुई। जिससे लोगों को उमस और तेज गर्मी से राहत मिली। बता दें कि शुक्रवार को भोपाल में प्री-मानसून की पहली बारिश हुई थी। करीब एक घंटे में 30.4 मिमी. पानी गिरा। इससे शहर तरबतर हो गया। बौछारों के कारण दोपहर में तीन घंटे में अधिकतम तापमान 7.8 डिग्रीसे.नीचे लुढ़क गया। सुबह 11:30 बजे अधिकतम तापमान 36.2 डिग्रीसे. पर था, जोकि दोपहर 2:30 बजे लुढ़ककर 28.4 डिग्रीसे. पर आ गया। मौसम विज्ञानियों ने शनिवार को भी बौछारें पडऩे की संभावना जताई हैं। मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक अभी तक के उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक इस वर्ष जून माह में गर्मी के नए कीर्तिमान बने हैं। जून के 12 दिन शहर में लू चलती रही। इससे लोग भीषण गर्मी से बेहाल हो गए थे। शुक्रवार को सुबह से ही आसमान पर बादल मौजूद थे। धूप निकलने के बाद वातावरण में उमस बढ़ गई। इससे लोग पसीने में लथपथ होते रहे। लेकिन दोपहर के बाद अचानक मौसम का मिजाज बदला और घने बादल छा गए। साथ ही तेज हवा के साथ तेज बौछारें पडऩे का सिलसिला शुरू हुआ। करीब एक घंटे तक शहर तरबतर होता रहा। इससे वातावरण में ठंडक घुल गई और लोगों ने खासी राहत महसूस की।वरिष्ठ मौसम विज्ञानी उदय सरवटे ने बताया कि वायू तूफान के कारण बड़े पैमाने पर नमी आ रही है। इससे राजधानी सहित पूरे प्रदेश में प्रीमानसून एक्टिविटी बढ़ी हैं। शुक्रवार को शहर में प्रीमानसून एक्टिविटी के तहत पहली अच्छी बरसात हुई। अब इस तरह की बौछारें पडऩे का सिलसिला मानसून के सक्रिय होने तक जारी रहने के आसार हैं।



2 views0 comments