400 छात्राएं पढ़ाई के पहले 12 बजे तक लाइन लगाकर भरती हैं पानी


अनूपपुर,(आरएनएस)। एक ओर सरकार बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए रात-दिन कोशिश करती है और स्कूल चले हम का नारा बुलंद कर रही है, लेकिन इसके बरखिलाफ अनूपपुर जिले में 400 से ज्यादा छात्राएं प्रति दिन कई घंटे पानी भरने में बर्बाद करती हैं। अनूपपुर जिला मुख्यालय से कुछ ही दूर पर कन्या शिक्षा परिसर में पानी की समस्या को लेकर लगभग चार सौ छात्राएं परेशान हैं। जानकारी के बावजूद प्रशासन पानी की व्यवस्था बनाने प्रशासन पानी की व्यवस्था बनाने में नाकाम साबित हो रहा है। बाल्टी से पानी लेकर छात्राएं दूर से आती हैं, जिस वजह से उन्हें पढ़ाई का समय नहीं मिल पा रहा है। इसके साथ ही यहां बिजली की समस्या भी बनी हुई है। बोर में चार मोटर लगे हुए हैं, तो खराब पड़े हैं। आश्चर्य की बात तो यह है कि संस्था में मंत्री, विधायक, सांसद व जिले के आला अधिकारियों के रिश्तेदार और बच्चे भी पढ़ाई कर रहे हैं। पानी की समस्या होने के कारण गत दिवस 12 बजे तक बच्चे स्कूल नहीं जा सके थे। इस समस्या को लेकर छात्राओं के परिवारों का कहना है कि गांव के बच्चे शहर शिक्षा ग्रहण करने आते हैं, जिससे वो अच्छी पोजीशिन में आकर अपने गांव और माता-पिता का नाम रोशन कर सके। मगर इनकी पढ़ाई पर प्रशासन के उदासीन बर्ताव के कारण ग्रहण लग रहा है। प्रशासन को इस मामले को संज्ञान में लेते हुए कन्या शिक्षा परिसर में जल्द से जल्द पानी की व्यवस्था बनाने की ओर ध्यान देना चाहिए।

0 views0 comments