25 लाख को 8 माह में स्वरोजगार दिया, एक लाख को सरकारी नौकरी देंगे : मुख्यमंत्री श्री चौहान


सीहोर, (निप्र)। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश के युवाओं को आश्वस्त किया कि हर माह दो लाख युवाओं को स्वरोजगार दिया जाएगा। मुख्यमंत्री गुरुवार को जिले के बुदनी में 26 औद्योगिक संरचनाओं का लोकार्पण और भूमिपूजन करने के बाद युवाओं और नागरिकों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने इस अवसर पर प्रतीकात्मक रूप से हितग्राहियों को स्वरोजगार योजना के चेक और स्वीकृति पत्र वितरित किए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बुदनी में टॉय कलस्टर का भी शिलान्यास किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने युवाओं को आगामी एक वर्ष में एक लाख शासकीय सेवाओं में नौकरी देने के प्रयासों की जानकारी देते हुए रोजगार और स्वरोजगार के अर्थ को समझाया और टिप्स भी दिए। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 8 माह में ही 25 लाख युवाओं को स्वरोजगार दिया गया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमारे तकनीकी और कुशल युवा उद्योग लगाने के लिए आगे आए। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना को इसीलिए लागू किया गया है। मुख्यमंत्री ने युवाओं से आग्रह किया कि वे योजना का लाभ लेकर एक से पचास लाख तक का रोजगार शुरू करे, मध्यप्रदेश सरकार गारंटी भी देगी और तीन प्रतिशत ब्याज अनुदान भी दिया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने क्लस्टर आधारित उद्योगों की परिकल्पना का उल्लेख करते हुए कहा कि एक जगह पर अनेक उद्यमियों के समूह से एक जैसा उत्पादन और रोजगार की बड़ी संख्या में सृजन होना है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बुरहानपुर, इंदौर, भोपाल और नीमच के कलस्टर विकासको से भी वर्चुअल संवाद कर उनके प्रति आभार व्यक्त किया और शुभकामनाएं दी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मध्यप्रदेश के हाल ही में चीता स्टेट बनने का उल्लेख करते हुए कहा कि हम पहले से टाइगर और तेंदुआ स्टेट है और पर्यटन में भी बड़े पैमाने पर रोजगार के अवसर पैदा किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कलस्टर के साथ आजीविका मिशन की गतिविधियों का उल्लेख करते हुए नागरिकों का आव्हान किया कि वे चीन सहित दुनिया के अन्य उत्पादों के स्थान पर स्थानीय उत्पाद खरीदे। उन्होंने बुदनी के 20 करोड़ की लागत से प्रारंभ हुए खिलौना कलस्टर के खिलौनों की धूम दुनिया भर में होने की संभावना व्यक्त करते हुए कहा कि भोपाल में दवा, बुरहानपुर में कपड़ा, इंदौर में फर्नीचर सहित अन्य सभी जिलों में भी कलस्टर आधारित उदाहरण बनेंगे।

इस दौरान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बुदनी में मेडिकल कॉलेज खोलने की घोषणा करते हुए कहा कि इससे नर्मदापुरम संभाग के नागरिकों को भी बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मिल पाएंगी। उन्होंने बुदनी क्षेत्र में फोर लेन सड़को के निर्माण का उल्लेख करते हुए कहा कि बुदनी में और भी उद्योग आयेंगे जिनसे क्षेत्र और भी समृद्ध होगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नागरिकों से महाकाल लोक के आगामी 11 अक्टूबर को प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा किए जाने वाले लोकार्पण कार्यक्रम में सहभागिता की अपील की। उन्होंने मंदिरों को सजाने,संवारने, दीप जलाने, भजन कीर्तन आदि करने की अपील की। समारोह को सूक्ष्म, लघु, मध्यम उद्यम मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा ने संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री की परिकल्पना अनुसार अब तक प्रदेश में 41 क्लस्टर पर काम होने की जानकारी देते हुए कहा कि इनसे बड़ी संख्या में प्रदेश के युवाओं को रोजगार मिलेगा और हजारों करोड़ का निवेश भी आएगा। उन्होंने मुख्यमंत्री को आश्वस्त किया कि पूरे प्रयास कर उनकी घोषणा के अनुरूप हर माह दो लाख से अधिक युवाओं को स्वरोजगार दिया जाएगा। इससे पहले मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कार्यक्रम स्थल पर विभिन्न कंपनियों द्वारा युवाओं को रोजगार देने के लिए लगाए गए स्टॉल का निरीक्षण किया। उन्होंने कंपनियों के प्रतिनिधियों से रोजगार प्रदान करने की प्रक्रिया की जानकारी ली। रोजगार दिवस के अवसर पर गुजरात, राजस्थान और मध्यप्रदेश के सीहोर, इंदौर, देवास, रायसेन सहित अनेक जिलों से 21 कम्पनियों ने अपने स्टॉल लगा समारोह में सांसद श्री रमाकांत भार्गव, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री तथा जिले के प्रभारी डॉ. प्रभुराम चौधरी, जिला पंचायत अध्यक्ष श्री गोपाल सिंह इंजीनियर, भाजपा जिला अध्यक्ष श्री रवि मालवीय, सलकनपुर ट्रस्ट अध्यक्ष श्री महेश उपाध्याय, पूर्व विधायक श्री राजेन्द्र सिंह राजपूत, श्री रघुनाथ भाटी, बुधनी नगर परिषद अध्यक्ष श्री सुनीता मालवीय, श्री अर्जुन मालवीय, श्री राजेश पाल सहित जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

1 view0 comments