top of page

130 रन से नीचे के किसी भी लक्ष्य का बचाव करना मुश्किल : महेंद्र सिंह धोनी

मुंबई, (ए)। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2022 में मुंबई इंडियंस के खिलाफ गुरूवार रात खेले गए मुकाबले में केवल 97 रनों पर पर ढेर होने और बाद में पांच विकेट से हारने के बाद, चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान एमएस धोनी ने स्वीकार किया कि 130 रन से नीचे के किसी भी लक्ष्य का बचाव करना मुश्किल है।तिलक वर्मा और ऋतिक शौकीन के बीच महत्वपूर्ण साझेदारी और टिम डेविड की नाबाद 16 रनों की बदौलत मुंबई इंडियंस को गुरुवार को यहां वानखेड़े स्टेडियम में चेन्नई सुपर किंग्स को 5 विकेट से हराया।मैच के बाद धोनी ने कहा, चाहे विकेट कैसी भी हो, 130 से नीचे की किसी भी लक्ष्य का बचाव करना मुश्किल होता है, लेकिन मैंने गेंदबाजों से बहुत अधिक चरित्र दिखाने और परिणाम के बारे में भूल जाने के लिए कहा। दोनों युवा तेज गेंदबाजों मुकेश चौधरी और सिमरजीत सिंह ने वास्तव में अच्छी गेंदबाजी की। वास्तव में उन्हें खुद पर विश्वास करने में मदद करता है कि परिस्थितियों के बावजूद, जब भी हम शुरुआत करते हैं तो हमें उसी तरह के रवैये की जरूरत होती है और यही सबसे छोटे प्रारूप में जरूरी है। उन्होंने कहा, हम ऐसे दौर से गुजरे हैं जहां हमारे पास वास्तव में तेज गेंदबाजों की कमी है। साथ ही, युवा तेज गेंदबाज, परिपक्व होने में अपना समय लेते हैं यदि आप भाग्यशाली हैं तो आपको कोई ऐसा मिल जाता है जो छह महीने के समय में सभी प्रारूपों में खेल सकता है। कुछ खिलाड़ी अपनी योजनाओं को बेहतर ढंग से क्रियान्वित करने से पहले अपना समय लेते हैं। हमारे पास अगले सत्र में दो और तेज गेंदबाज आने वाले हैं, साथ ही हमारे पास कुछ और युवा गेंदबाज हैं, बस उन्हें तैयारी के लिए हम पर्याप्त समय देना चाहते हैं। 97 रनों का छोटा सा लक्ष्य रखने के बावजूद सीएसके के गेंदबाजों ने बेहतर प्रदर्शन किया। मुकेश चौधरी ने तीन विकेट लिए जबकि सिमरजीत सिंह और मोइन अली ने एक-एक विकेट लिया।बता दें कि इस मैच में सीएसके की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 16 ओवर में 97 रनों पर सिमट गई। सीएसके की तरफ से कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी ने नाबाद 36 रन बनाए। मुंबई के लिए डेनियल सैम्स ने 3, मेरेडिथ और कार्तिकेय ने 2-2 व बुमराह और रमनदीप सिंह को एक-एक विकेट मिला। जवाब में मुंबई की टीम ने 14.5 ओवरों में 5 विकेट के नुकसान पर 103 रन बनाकर जीत हासिल कर ली।

0 views0 comments