13 माह बाद हर हाल में मप्र में कांग्रेस की सरकार बनेगी : कमलनाथ

विधानसभा चुनाव में मात्र 13 माह बचे हैं, सभी कमर कस मैदान में जुट जायें

भोपाल (निप्र)। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में जिला/ शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्षों, कांग्रेस द्वारा नियुक्त जिला प्रभारियों, सह प्रभारियों और कांग्रेस विधायकों की संयुक्त महत्वपूर्ण बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि विधानसभ चुनाव 2023 के चुनाव के लिए मात्र 13 माह बचे हैं। हम सभी आज से कमर कस लें और मैदान में उतर जायें। आज की राजनीति में परिवर्तन आ गया है, आज की राजनीति स्थानीय हो चुकी हैं। श्री नाथ ने कहा कि आगामी 4 सितम्बर को दिल्ली के रामलीला मैदान में महंगाई के विरोध में कांग्रेस की महारैली आयोजित की गई है, उसकी तैयारी के लिए सभी जुट जायें और ज्यादा से ज्यादा कांग्रेसजन दिल्ली की इस महारैली में शामिल हों। अभा कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा निकाली जा रही 3500 किलोमीटर की कन्याकुमारी से कश्मीर तक की भारत जोड़ो यात्रा को लेकर उन्होंने कहा कि यह यात्रा मप्र के कई हिस्सों से होकर गुजरेगी, उसे लेकर भी हमें व्यापक तैयारी करना है। श्री नाथ ने कहा कि प्रदेश के सभी जिलों में प्रभारी और सहप्रभारी बनाये गये हैं जो अपने प्रभार वाले क्षेत्र में जाकर सभी कांग्रेसजनों से समन्वयक बनाकर मण्डलम, सेक्टर, बूथ कमेटियां, पन्ना प्रभारी बनाये, आने वाले 13 माह अग्नि परीक्षा का समय है। सभी अपने 11 महीने के कार्यक्रम बना कर मैदान में उतर जायें। उन्होंने कहा कि मतदाता सूची पर भी फोकस करें, ज्यादा से ज्यादा नाम जुड़वायें, कोई नाम बाकी न रहे। श्री नाथ ने कहा कि आगामी 2 अक्टूबर, गांधी जयंती से ग्रामीण क्षेत्रों में गांधी चौपाल आयोजित की जा रही हैं जो 30 जनवरी तक चलेगी उसमें भी ग्रामीणजनों के साथ समन्वय बनाकर ज्यादा से ज्यादा संख्या में शामिल होकर अपनी बात रखें। भाजपा के पुलिस, पैसा और प्रशासन के दुरूपयोग के बावजूद नगरीय निकाय चुनाव व पंचायत चुनाव में हमें व्यापक जनसमर्थन मिला है, उसी उत्साह को हमें 2023 तक कायम रखना है। श्री नाथ ने कहा कि 31 साल बाद रेगांव और कई वर्षों बाद दमोह में कांग्रेस की जीत हुई है, यह संगठन की मजबूती के चलते ही संभव हो सका है। मप्र में बाल कांग्रेस का गठन भी किया गया है, बाल कांग्रेस के उत्साह से हमें ताकत व ऊर्जा मिल रही हैं। आगामी समय में हम हर जिले की अलग से बैठकें करेंगे, पार्षदों और सभी निर्वाचित जनपद व पंचायत सदस्यों के साथ बैठकर संवाद करेंगे। आप सभी लोग मोदी-शिवराज सरकार की विफलताओं को जनता के बीच में ले जाएं। मोदी जी ने 2014 और 2019 के चुनाव के समय किसानों, युवाओं को रोजगार देने की बात की थी, लेकिन वे आज सब भूल गये है और अब राष्ट्रवाद के नाम पर जनता को भ्रमित करने में लगे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री व राज्यसभा सांसद दिग्विजयसिंह ने राहुल गांधी जी द्वारा की जा रही 3500 किलोमीटर की भारत जोड़ों यात्रा की जानकारी देते हुए बताया कि यह यात्रा पूरे भारत में निकाली जायेगी, जिसमें मप्र का हिस्सा भी शामिल है। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से कमलनाथ जी के नेतृत्व में संगठन की गतिविधियां चल रही है, उससे मैं विश्वास से कह सकता हूं कि हम आने वाले विधानसभा चुनाव में 150 से अधिक सीटों पर चुनाव जीतेंगे और निश्चित तौर पर प्रदेश में कमलनाथ जी के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकार बनेगी। राहुल गांधी जी की यात्रा के लिए सभी जिलों में समन्वयक बनाये गये हैं। यह यात्रा जनसंपर्क अभियान और जन जागरण यात्रा का ही हिस्सा हैं। मप्र विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह ने कहा कि दिल्ली में आगामी 4 सितम्बर को आयोजित महारैली में मप्र से अधिक से अधिक कांग्रेसजन शामिल होकर कांग्रेस को मजबूत करें और ग्वालियर-चंबल क्षेत्र से बड़ी संख्या में लोग दिल्ली पहुंचेंगे। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और सभी प्रकोष्ठों के प्रभारी जे.पी. धनोपिया ने कहा प्रदेश कांग्रेस ने 34 प्रकोष्ठ बनाये हैं, प्रकोष्ठों के अध्यक्षों की कार्यप्रणाली के बारे में जानकारी दी।

इस अवसर पर पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी, नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया, अरूण यादव, पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजयसिंह, अभा कांग्रेस के सचिवगण संजय कपूर, सीपी मित्तल, सुधांशु त्रिपाठी, कुलदीप इंदौरा, सेवादल के अध्यक्ष रजनीश सिंह, महिला कांग्रेस अध्यक्ष विभा पटेल, युवा कांग्रेस अध्यक्ष विक्रांत भूरिया आदि मंचासीन थे। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री राजीव सिंह ने बैठक का संचालन किया और प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष एवं संगठन प्रभारी चंद्रप्रभाष शेखर ने उपस्थित कांग्रेसजनों का आभार व्यक्त किया।

1 view0 comments