प्रेमिका की जान का दुश्मन बना सूफियान, धर्म बदलने के दबाव के बीच प्रेमिका के साथ किया ऐसा काम, थम

लखनऊ (ए)। एक तरफ दिल्ली श्रद्धा वॉकर की मौत के तरीके से दहली हुई है इसी बीच उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में भी हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां जबरन धर्म परिवर्तन कर शादी से इंकार करने पर नाबालिग किशोरी को बिल्डिंग से नीचे फेंका गया, जिसके बाद उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले की जांच शुरू कर दी है। जानकारी के मुताबिक राजधानी लखनऊ के दुबग्गा स्थित डूडा कॉलोनी में ऐसे मर्डर मॉड्यूल का खुलासा हुआ है, जिसने होश उड़ा दिए है। सुफियान नामक व्यक्ति पर आरोप है कि उसने एक हिंदू किशोरी को छत से नीचे फेंक दिया। किशोरी को परिजनों ने ट्रॉमा सेंटर में भर्ती किया जहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया।

जानें पूरा मामला

धर्मांतरण की कोशिशों को लेकर हुए झगड़े में एक युवक ने अपनी 19 वर्षीय प्रेमिका को कथित तौर पर चौथी मंजिल से धक्का दे दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। एक पुलिस अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मृतका के परिजनों का आरोप है कि उसका मुस्लिम प्रेमी उस पर धर्मांतरण के लिए दबाव बना रहा था।

पुलिस के मुताबिक, घटना के बाद से ही आरोपी फरार है और उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस की पांच टीमें गठित की गई हैं। पुलिस ने सुफियान और उसके परिजनों के खिलाफ हत्या समेत कई गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। संयुक्त पुलिस आयुक्त (जेसीपी) पीयूष मोर्डिया ने पत्रकारों से कहा कि घटना मंगलवार रात दुबग्गा थाना क्षेत्र में हुई। मृतक लड़की अपने परिवार के साथ आरोपी सूफियान के घर गई थी और जब दोनों परिवार के सदस्य आपस में बात कर रहे थे, तभी आरोपी लड़की को इमारत की चौथी मंजिल पर ले गया और उसे वहां से कथित तौर पर धक्का दे दिया।

जेसीपी ने कहा कि लड़की और आरोपी पड़ोसी थे। दोनों के परिवार वाले उनके रिश्ते के खिलाफ थे। पुलिस के अनुसार, सूफियान ने लड़की को एक मोबाइल फोन दिया था और जब लड़की के घरवालों को इस बात का पता चला तो वे सूफियान के घर पहुंचे, जहां दोनों पक्षों के बीच इस बात को लेकर झगड़ा हुआ। पुलिस ने मृतका की मां की ओर से दायर शिकायत के आधार पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) और उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज की है। जेसीपी ने कहा कि मृत लड़की के परिवार वालों ने आरोप लगाया है कि आरोपी उस पर धर्म परिवर्तन के लिए दबाव बना रहा था। हमारी टीमें मामले की जांच कर रही हैं। आरोपी युवक की गिरफ्तारी के प्रयास तेज कर दिए गए हैं।


0 views0 comments