• dainik kshitij kiran

छः दिन में दो हजार से अधिक भवनों पर लगा रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम

साढ़े चार हजार से अधिक भवनों पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम स्थापना का लक्ष्य, 30 जून तक चलेगा अभियान

रायपुर/ छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में मानसून के पहले बरसात का पानी सहेजने के लिए शुरू किए गए ’छानी के पानी घर म’ अभियान के पिछले छः दिनों में दो हजार 73 भवनो-ईकाईयों पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने का काम पूरा हो गया है। जिला कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल की पहल पर शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में पहली बार एक साथ बारिश के पानी को बेकार बह जाने से रोकते हुए वापस जमीन में पहुंचाने के लिए एक साथ सरकारी और निजी भवनो-ईकाईयों पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने का अभियान चलाया जा रहा है। 20 जून से शुरू हुए ’छानी के पानी घर म‘ अभियान के तहत 30 जून तक एक साथ लगभग साढ़े चार हजार से अधिक भवनों-ईकाइयों पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग प्रणाली स्थापना का काम तेजी से प्रगति पर है। 

    कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने आज यहां बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा कलेक्टर्स कंाफ्रेस में दिए गए निर्देशों पर अमल करते हुए यह अभियान 20 जून से शुरू किया गया था। ‘छानी के पानी घर म‘ अभियान के तहत पहले छः दिनों में जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में बने सरकारी भवनों, औद्योगिक प्रतिष्ठानों के भवनों, शालाओं, अस्पताल भवनों सहित निजी व्यवसायिक भवनों एवं बड़े आवासीय भवनों पर एक साथ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम का काम शुरू हुआ और छः दिनों में ही दो हजार 73 ईकाईयों पर वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगा दिया गया है। कलेक्टर श्रीमती कौशल ने बताया कि इस अभियान के लिए जिले के ग्रामीण क्षेत्रों तथा शहरी क्षेत्रों में विशेष जन जागरूकता कार्यक्रम भी चलाया गया था और लोगों को रेन वाटर हार्वेस्टिंग की जरूरतों तथा उसके तकनीकी पहलुओं की भी जानकारी दी गई थी। उन्होंने कहा कि जिले के शहरी क्षेत्रों में केवल छः दिनों में 513 ईकाईयों पर और ग्रामीण क्षेत्रों में एक हजार 560 भवनों पर वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम स्थापित कर दिया गया है। नगर निगम कोरबा में अब तक 447, नगर पालिका क्षेत्र दीपका में 19, नगर पालिका क्षेत्र कटघोरा में 30, नगर पंचायत क्षेत्र पाली में 11 और नगर पंचायत छुरी में छः इकाईयों पर अभियान के तहत काम पूरा हो गया है। इसी प्रकार ग्रामीण क्षेत्र में जनपद पंचायत कोरबा में 427, करतला में 201, कटघोरा में 315, पाली में 240 और पोंड़ीउपरोड़ा में 377 भवनों-इकाईयों पर बारिश का पानी बचाने वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम का काम पूरा किया जा चुका है। 

कलेक्टर ने कहा कि कोरबा नगर निगम के सभी आठ जोनों में शासकीय कार्यालयों के भवनों, स्कूल भवनों, माहाविद्यालय, शासकीय एवं निजी अस्पतालों, बड़े व्यावसायिक एवं आवासीय भवनों को मिलाकर कुल आठ सौ भवनों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम स्थापित किए जायेंगे। ग्रामीण क्षेत्रों में हर एक ग्राम पंचायत स्तर पर पंचायत भवन, शाला भवन, अस्पताल, बड़े आवासीय भवनों को मिलाकर 12-12 भवनों पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग प्रणाली स्थापित करने का लक्ष्य है। लक्ष्य अनुसार कोरबा जिले की सभी 390 ग्राम पंचायतों में इस तरह कुल 4680 भवनों पर एक साथ वाटर हार्वेस्टिंग प्रणाली स्थापित होगी। शहरी क्षेत्रों में प्रत्येक जोन स्तर पर 100 भवनों में यह काम किया जाना है। 


0 views0 comments

Recent Posts

See All

बेकाबू कार ने बाइक को टक्कर मारी, दो घायल

सीहोर। भोपाल-इंदौर हाईवे पर अंधाधुंध गति से दौड़ रही एक बेकाबू कार ने बाइक को पीछे से जोरदार टक्कर मार दी। जिसमें दो साथी गंभीर रूप से घायल हो गए। जिन्हें उपचार के लिए 108 एंबुलेंस से अस्पताल भेजा गया