• dainik kshitij kiran

घर-घर जाकर पढ़ाना जोखिम भरा कार्य


सीहोर। मध्यप्रदेश शासन की हमारा घर हमारा विद्यालय योजना के अन्तर्गत शिक्षक छात्रों के घर-घर जाकर शिक्षण कार्य करा रहे हैं, जो कि कोरोनाकाल में अति जोखिम भरा कार्य है। संघ ने शासन से मांग की है कि घर-घर जाने की बजाय ऑन लाईन शिक्षण कार्य ही करवाया जाये ताकि पालक, शिक्षक एवं छात्र कोरोना संक्रमण से सुरक्षित रह सके। दिनांक 6 जून से शिक्षक कोरोना योध्याओं की तरह छात्रों के घर-घर जाकर पढ़ाने में जुटे हुए हैं। ऐसे में सौशल डिस्टेंसिंग का पालन भी नही हो पा रहा है। शासन से अनुरोध किया है कि अन्य विकल्प पर विचार कर समस्या का समाधान किया जावे। साथ ही कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर ज्ञापन सौपकर मांग की गई है कि सीहोर जिले में शिक्षकों की द्वितीय एवं तृतीय क्रमोन्नति सूचि अभी तक जारी नही की गई है। अध्यापक संवर्ग को मई एवं जून 2020 का वेतन अभी तक प्राप्त नही हुआ है। ग्रीष्मकालीन अवकाश में कार्य करने वाले शिक्षकों की सेवा पुस्तिका में अभी प्रवष्टि नही की गई है। जबकि उक्त निर्णय जिला स्तरीय संयुक्त परामर्शदातरी समिति की बैठक में लिये गये थे किन्तु शिक्षा विभाग द्वारा पालन नही किया गया। मांग करने वालों में प्रमुख रुप से म.प्र.राज्य कर्मचारी जिलाध्यक्ष संतोष जैन संतु सहित गोपाल सिंह ठाकुर, मनोज व्यास, प्रेमनारायण जावरिया, दिनेश शर्मा, प्रांतीय शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष संजय सक्सेना, प्रदीप नागिया, आशीष शर्मा, विक्रम मालवीय, अभिषेक भार्गव, शैलेन्द्र सिंह, जगदीश सेन, गुरुप्रसाद जामलिया आदि शामिल हैं।

1 view0 comments

Recent Posts

See All

बेकाबू कार ने बाइक को टक्कर मारी, दो घायल

सीहोर। भोपाल-इंदौर हाईवे पर अंधाधुंध गति से दौड़ रही एक बेकाबू कार ने बाइक को पीछे से जोरदार टक्कर मार दी। जिसमें दो साथी गंभीर रूप से घायल हो गए। जिन्हें उपचार के लिए 108 एंबुलेंस से अस्पताल भेजा गया