• dainik kshitij kiran

खतरे के निशान से ऊपर तीन दिन से बह रही है नर्मदा


शहर की बस्तियों में भरा हुआ तीसरे दिन भी भरा हुआ है पानी

धीमी गति से उतर रही है बाढ़, राहत के लिए आस लगा रहे हैं बाढ़ पीड़ित


होशंगाबाद। क्षेत्र में हुई लगातार तेज बारिश और तीनों बांधों से छोड़े गए लाखों क्यूसेक पानी के कारण आई बाढ़ ने जिले के हजारों परिवार को तहस नहस कर दिया है। जिले में अधिकांश लोगाें का जनजीवन प्रभावित हो गया है। संभागीय मुख्यालय होशंगाबाद की 9 निचली बस्तियों के हजारों घरों में तीसरे दिन भी बाढ़ का पानी भरा हुआ था। जिसके उतरने की गति धीमी है। बाढ़ उतरती जा रही है लोग घरों की साफ सफाई में जुटे हुए हैं। गृहस्थी का जो सामान बच गया है उसे सहेज रहे हैं। कई लोग बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में तीसरे दिन भी चारों तरफ से बाढ़ से घिरे रहने के बाद भी अपने घरों से बाहर नहीं आना चाह रहे थे। सेना के जवान उन्हें लेने के लिए पहुंचे तब कहीं वे नीचे उतर कर सुरक्षित स्थानों की ओर जा सके। नीचे की मंजिल पर पानी भरने के बाद वे दूसरी मंजिल पर ठहरे हुए थे। करीब दो हजार लोगों को राहत शिविरों में ठहराया गया है।

पीने के पानी को तरस रहे लोग

बाढ़ के कारण निचली बस्तियों में कई लोग घरों में चारों तरफ से पानी से घिरे हुए हैं। लेकिन पीने के पानी के लिए तरस रहे हैं। उन्हें शुद्ध पानी पीने के लिए परेशान होना पड़ रहा था। स्वयंसेवी पानी की व्यवस्था कर रहे हैं। कुछ लोगों ने इनको सुबह पोहा लाकर दिया। वहीं उनके परिचित व परिजन जो अन्य स्थानों पर रहते हैं वे भोजन पानी भी लाकर दे रहे हैं। संजय नगर क्षेत्र के नागरिक हर बार बाढ़ के पानी से घिर जाते हैं। उनके अनुभव बताते हैं कि उनकी आदत हो गई है। इस कारण बाढ़ आने पर घर में रहते हैं।

सड़क किनारे डेरा

संजय नगर आदमगढ़ क्षेत्र के अनेक लोगों ने अपना डेरा डाल लिया है। उन्हें बाढ़ उतरने का इंतजार हो रहा है। कुछ लोगों के घर से पानी दूर हो गया वे घर में साफ सफाई करने में जुट गए हैं। लेकिन उनका डेरा सड़क किनारे लगा है। उन्हें अनेक लोग भोजन पानी लाकर दे रहे हैं।

ओवर ब्रिज के पास हुई दिक्कत

रेलवे ओवर ब्रिज के पास और भोपाल रोड़ के दोनों तरफ निचली बस्ती में पानी भरा हुआ है। संजय नगर ग्वालटोली के पास वाले क्षेत्र में करीब दो हजार घरों में बाढ़ का पानी भर गया था। अभी भी आधे लोगों के यहां पर पानी भरा हुआ है। यहां के विष्णु हरियाले महेश हरियाले, परसराम अहिरवार,रमेश मेहरा दिलीप मेहरा, आदि अनेक लोगों के घरों के अंदर पानी भरा है। ये लोग छत पर पहुंच गए। इनमें से राजेश मेहरा ने अपने घर की टीन निकाल कर ओवर ब्रिज की रेलिंग के सहारे रखकर जैसे तैसे कुछ सामान घर का बाहर निकाल लिया है। ऐसा ही अन्य लोगों ने भी किया है। सडक के पास डेरा डाल कर घर की साफ सफाई कर रहे हैं।

ग्वालटोली, संजय नगर, महिमा नगर अादमगढ़

आदमगढ़ के अख्तर बेग,टीअार यादव,अदालत हुसैन,प्रकाश कहारपवन यादव,केशव रैकवार,व बंगाली कॉलोनी के राजेश शाह,प्रीतिम,संतोष कुमार,संजय शाह आदि ने बताया कि इतनी बाढ़ की संभावना नहीं थी। इस कारण ऊंचे स्थान पर नहीं गए। घर में पानी भर जाने से घर तो खराब हो गया है। घर में रखे सामान को भी काफी नुकसान पहुंचा है। संजय नगर में करीब तीन हजार ग्वालटोली में 800 और महिमा नगर में एक हजार आवासों के अंदर पानी भर गया है। यहां रहने वाले बलिराम यादव,भागवंती नरवड़े,मनोहर कटारे,गंगाराम कटारे,देवेंद्र वारवे गंगा बाई ने बताया कि अचानक बाढ़ आने पर उन्होने घर का सामान समेटना शुरू कर दिया था। कुछ सामान घर के ऊपरी हिस्से में रख पाए थे कि बाढ़ घर के दरवाजे पर आ गई। हमारे घर के कुुछ लोग तो राहत शिविर में चले गए लेकिन घर में चाेरी नहीं हो जाए इस कारण हमें रूकना पड़ा है। फिर भी सामान खराब हो गया।

गृहस्थी का सामान भींगा,अनाज व उपकरण हुए खराब

इन सभी बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों के घरों में पानी भर जाने से उनका अनाज,कूलर पंखे, ओढ़ने पहनने के कपड़े आदि सब भींग जाने से खराब हो गए हैं। घर की दीवालें गीली हो जाने से तथा अनेक लोगों के मीटर तक और उससे ऊपर तक पानी चले जाने से बिजली की फिटिंग भी खराब हो गई है। पानी भरने से लोगों का कहना है बहुत नुकसान हो गया है।

0 views0 comments

Recent Posts

See All

ईवीएम और वीवीपैट से छेड़छाड़ संभव नहीं : आयोग

नई दिल्ली । ईवीएम और वीवीपैट को लेकर उठते सवालों के बीच चुनाव आयोग ने एक बार फिर कहा कि इसके साथ गड़बड़ी नहीं हो सकती है। इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) और वोटर वेरिफाइड पेपर ट्रेल मशीन (वीवीपैट) क

कोरोना : दूसरी मेड इन इंडिया वैक्सीन की 30 करोड़ डोज बुक

नई दिल्ली । देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर का कहर जारी है। इस बीच, केंद्र सरकार देश में कोविड टीकों की किल्लत दूर करने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है। इस कड़ी में केंद्र सरकार हैदराबाद स्थित वैक्

देश में दूसरे दिन लगातार बढ़े कोरोना मामले

24 घंटे में 1.34 लाख नए मामले, 2887 मरीजों की मौत नई दिल्ली / कोरोना वायरस की दूसरी लहर में पीक का समय खत्म होने का दावा किया जा रहा है, लेकिन देश में पिछले लगातार दो दिनों में कोरोना वायरस के दैनिक म