कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की शिवराज सरकार की तैयारी केवल कागजी दावा : कमलनाथ

भोपाल । मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने प्रदेश सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि दूसरी लहर की भयावहता को देखने के बाद भी कोरोना की तीसरी लहर को लेकर प्रदेश सरकार की तैयारी अपर्याप्त है। उन्होंने तंज कसते हुए कहा है कि प्रदेश की जनता सिर्फ भगवान भरोसे है।कमलनाथ ने गुरुवार को अपने बयान में प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस शिवराज सरकार से रोज गुहार कर रही है कि कोरोना की दूसरी लहर में जो दर्दनाक हालात हमने प्रदेश के देखे है, लोगों को इलाज-बेड-अस्पताल-ऑक्सीजन-जीवन रक्षक दवाइयों-वेंटीलेटर के लिये भटकते व तड़पते देखा है, हजारों लोगों की जान इनके अभाव में गयी है, अब उससे सबक़ लेते हुए तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए प्रदेश में बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं को युद्ध स्तर पर दुरुस्त कर, इससे बचने के पर्याप्त इंतज़ाम किये जाये। लेकिन जो वास्तविकता व प्रदेश की स्थिति सामने आ रही है वो बेहद चिंताजनक है। कमलनाथ ने आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश के 52 जिलो में से सिफऱ् 20 जिला अस्पतालों में ही बच्चों का आईसीयू, पूरे प्रदेश में बच्चों के लिये आवश्यक सुविधाओं वाली सिफऱ् एक एम्बुलेंस, बच्चों के लिये सिफऱ् 2418 बेड ये कैसी तैयारी? कागजी दावा तो शिवराज सरकार कोरोना की तीसरी लहर से निपटने का रोज कर रही है लेकिन यह है मैदानी स्थिति व वास्तविकता? प्रदेश की जनता सिफऱ् भगवान भरोसे है।


1 view0 comments