कोर्ट ने दो मुख्य आरोपितों को एक दिन की पुलिस हिरासत में भेजा

- अन्य 12 आरोपितों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश

नई दिल्ली, (ए)। दिल्ली के रोहिणी कोर्ट ने जहांगीरपुरी हिंसा मामले के दो मुख्य आरोपितों को एक दिन की पुलिस हिरासत और अन्य 12 आरोपितों को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया है।

दिल्ली पुलिस ने रविवार को इन आरोपितों को रोहिणी कोर्ट के ड्यूटी मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया। दिल्ली पुलिस ने इन आरोपितों में से दो मुख्य आरोपितों- अंसार और मोहम्मद असलम पर पूरी साजिश रचने का आरोप लगाया। दिल्ली पुलिस ने कहा कि अंसार और असलम को शोभायात्रा की जानकारी 15 अप्रैल को लग गई थी, जिसके बाद उसने हिंसा की साजिश रची। दिल्ली पुलिस ने दोनों से पूछताछ के लिए हिरासत की मांग की, जिसके बाद कोर्ट ने अंसार और मोहम्मद असलम को एक दिन की पुलिस हिरासत में भेजने का आदेश दिया।दिल्ली पुलिस ने कहा कि हमें सीसीटीवी फुटेज के जरिये बाकी आरोपितों का पता करना है। दिल्ली पुलिस ने आज जिन आरोपितों को कोर्ट में पेश किया उनमें अंसार, जाहिद, शहजाद, मुख्तार अली, मोहम्मद अली, आमिर, अक्सार, नूर आलम, मोहम्मद असलम, जाकिर, अकरम, इम्तियाज, मोहम्मद अली और अहीर शामिल हैं। उल्लेखनीय है कि 16 अप्रैल को हनुमान जयंती के मौके पर जहांगीरपुरी में शोभायात्रा के दौरान हिंसा की घटना हुई थी।

0 views0 comments