किसी को उम्मीद नहीं थी कि हम ओलंपिक में क्वार्टर फाइनल से आगे बढ़ेंगे : सविता


बेंगलुरू, (ए)। पिछले साल टोक्यो ओलंपिक में बेहतरीन प्रदर्शन करनी वाली भारतीय महिला हॉकी टीम की गोलकीपर सविता ने कहा कि किसी को उम्मीद नहीं थी कि टीम ओलंपिक के क्वार्टर फाइनल से आगे बढ़ेगी।

हॉकी इंडिया द्वारा शुरू की गई एक पॉडकास्ट श्रृंखला "हॉकी ते चर्चा" के नवीनतम एपिसोड में उन्होंने कहा, किसी को उम्मीद नहीं थी कि हम ओलंपिक खेलों में क्वार्टर फाइनल से आगे निकल जाएंगे। हमारे कई समर्थकों ने सोचा था कि हम शुरुआत में क्वार्टर फाइनल तक पहुंचेंगे, लेकिन मुझे नहीं लगता कि किसी को विश्वास था कि हम क्वार्टरफाइनल जीत सकते हैं। मैच के अंतिम सेकेंड तक जीतने और हार न मानने का यह उत्साह हमारे कोचिंग स्टाफ द्वारा पैदा किया गया था। हमें पता था कि हम टोक्यो की स्क्रिप्ट को बदल देंगे। "

सविता ने कहा, टोक्यो में चौथे स्थान पर रहने के बाद, सभी ने हम पर ध्यान दिया। पहले, केवल पुरुष टीम से ही उम्मीदें थीं। लेकिन अब, लोग उम्मीद करते हैं कि महिलाएं भी हमारे द्वारा खेले जाने वाले किसी भी टूर्नामेंट में शीर्ष तीन में रहें और यह खेल के लिए अच्छा है।

बता दें कि अनुभवी गोलकीपर सविता को जुलाई में शुरू होने वाले एफआईएच महिला विश्व कप से पहले यूरोप में एफआईएच प्रो लीग मैचों में भारतीय टीम का नेतृत्व सौंपा गया है।

प्रो लीग और विश्व कप के लिए साई, बेंगलुरु में टीम की तैयारियों के बारे में बोलते हुए सविता ने कहा, यूरोप में प्रो लीग मैचों के साथ-साथ महिला विश्व कप से पहले बहुत उत्साह है। पिछली बार, हम क्वार्टर फाइनल में हारकर बाहर हुए थे लेकिन इस बार हम शीर्ष 4 में जगह बनाने की पूरी कोशिश करेंगे।

ओलंपिक खेलों के स्थगन से निपटने के बाद, जो महामारी के कारण 2021 के लिए पुनर्निर्धारित किया गया था, भारतीय टीम को फिर से उसी स्थिति का सामना करना पड़ रहा है जहां एशियाई खेलों को अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया है।

लेकिन सविता ने उम्मीद जताते हुए कहा, हम एक बार फिर इस स्थगन को एशियाई खेलों के लिए प्रशिक्षण और बेहतर तैयारी के अवसर के रूप में देखेंगे। ओलंपिक के लिए एक साल के स्थगन ने हमें सुधार करने के लिए और व्यक्तिगत रूप से मेरे लिए महत्वपूर्ण समय दिया, मुझे जननेके के साथ मिलकर काम करना पड़ा, जिसका एक गोलकीपर के रूप में मेरे सुधार पर बहुत प्रभाव पड़ा।



0 views0 comments