कांग्रेस से विवेक तन्खा का दोबारा राज्यसभा जाना तय, सोमवार को दाखिल कर सकते है नामांकन

भोपाल, (आरएनएस)। मध्यप्रदेश में राज्यसभा की तीन सीटें रिक्त हो रही हैं जिनमें से एक सीट कांग्रेस के खाते की होगी और दो भाजपा के हिस्से में आएंगी। कांग्रेस कार्यकाल पूरा करने वाले विवेक तन्खा राज्यसभा में दोबारा कांग्रेस पार्टी का प्रतिनिधित्व करते नजर आएंगे। कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व ने मध्यप्रदेश से तन्खा को दोबारा राज्यसभा में भेजने का निर्णय लिया है। संभावना है कि वे सोमवार दोपहर 12 बजे नामांकन भी दाखिल कर देंगे। राज्यसभा में कांग्रेस वरिष्ठ अधिवक्ता विवेक तन्खा को दूसरी बार फिर मौका दे रही है। कमलनाथ और दिग्विजय सिंह दोनों इस पर सहमत हो गए हैं। तन्खा मध्यप्रदेश की कांग्रेस की राजनीति में अभी तक तटस्थ नेता माने जाते हैं। हाल ही में सुप्रीम कोर्ट द्वारा ओबीसी आरक्षण के बिना पंचायत चुनाव का फैसला सुनाए जाने के बाद उनकी सलाह पर ही पूर्व मुखयमंत्री कमलनाथ ने तुरंत पंचायत व निकाय चुनाव में ओबीसी के 27 फीसदी नेताओं को टिकट देने का एलान किया था। तन्खा की दिल्ली हाईकमान में भी पकड़ है और वरिष्ठ अधिवक्ता होने के नाते उनकी वहां जरूरत भी महसूस की जाती रहती है। इसके अलावा पार्टी तन्खा को दोबारा राज्यसभा में भेजकर यह बताना चाहती है कि कांग्रेस ही कश्मीरी पंडितों की हितैषी है। बता दें कि तन्खा एकमात्र कश्मीरी पंडित राज्यसभा सांसद हैं।

0 views0 comments