कांग्रेस सरकार में शुरू की गई भर्ती प्रक्रिया का ढोल बजा रहे हैं शिवराज : कमलनाथ


भोपाल, (ए)। राजधानी भोपाल में रविवार, 4 सितंबर को नवनियुक्त शिक्षकों को प्रशिक्षण का आयोजन किया जा रहा है। इसमें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान नवनियुक्त शिक्षकों को प्रशिक्षण देंगे। प्रदेश सरकार के इस आयोजन को लेकर राजनीति शुरू हो गई है। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने सरकार के आयोजन पर तंज कसा है।

उन्होंने शनिवार कहा कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार के समय युवाओं को रोजगार देने और प्रदेश में शिक्षा का स्तर ऊंचा करने के लिए शिक्षकों की चयन परीक्षा आयोजित की गई थी। इस परीक्षा के माध्यम से करीब 30 हजार शिक्षकों की भर्ती के लिए प्रक्रिया शुरू की गई। लेकिन कांग्रेस सरकार गिरने के बाद बनी शिवराज सिंह चौहान सरकार ने पिछले दो साल में सभी चयनित शिक्षकों को नियुक्ति तक नहीं दी, हजारों शिक्षकों ने धरना प्रदर्शन किये, लाठी खाई, बारिश में बैठे रहे, पर सरकार ने नियुक्ति नहीं दी और अब जो शिक्षक नौकरी कर रहे हैं उन्हें प्रशिक्षण के नाम पर भोपाल बुलाकर इवेंट किया रहा है।ंकमलनाथ ने कहा कि प्रदेश में 30 लाख से अधिक पंजीकृत बेरोजगार हैं ऐसे में शिवराज सरकार नए रोजगार सृजन करने और नई नौकरियां देने के बजाय पुरानी नौकरियों में कटौती करके प्रशिक्षण के नाम पर राजनीतिक इवेंट कर युवाओं को गुमराह कर रही ही है। उन्होंने कहा कि इसी परीक्षा में जो अन्य हजारों अभ्यर्थी चयनित हो गए हैं, उनकी दूसरी सूची सरकार क्यों जारी नहीं कर रही है। जबकि यह सच्चाई है कि शिक्षा विभाग में 50 हजार से अधिक पद खाली है।

ंउउन्होंने कहा कि मुझे जानकारी मिली है कि जिन शिक्षकों को नियुक्ति पत्र लेने के लिये बुलाया गया है, उनके ऊपर यह पाबंदी लगाई गई है कि वह ना तो किसी निजी वाहन से आ सकते हैं ना ही ट्रेन या अन्य वाहन से सभा स्थल पर आ सकते हैं। उन सभी को सरकार के द्वारा तय की गई बसों/ वाहन में बैठकर ही कार्यक्रम स्थल पर पहुंचना है। यहां तक कि छोटे-छोटे बच्चों की माताओं और गर्भवती महिलाओं तक को इससे छूट नहीं दी गई है। कमलनाथ ने कहा कि शिक्षकों को ट्रेनिंग के नाम पर भोपाल के जंबूरी मैदान में भारतीय जनता पार्टी की अघोषित रैली में बुलाया जा रहा है। यह इवेंट सरकार द्वारा आम जनता द्वारा भरे टैक्स का खुला दुरुपयोग है, प्रशिक्षण की राशि का दुरुपयोग है और प्रदेश के छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ है।

1 view0 comments