कांग्रेस ने रसोई गैस के दाम को लेकर केन्द्र सरकार पर साधा निशाना

नई दिल्ली, (ए)। कांग्रेस ने रसोई गैस के बढ़े दाम को लेकर केन्द्र सरकार पर निशाना साधा और कीमत को 2014 के स्तर पर लाने की मांग की। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने शनिवार को ट्वीट कर कहा कि बीते आठ वर्षों में मोदी सरकार ने रसोई गैस के दाम में 585 रुपये की बढ़ोतरी की है। सरकार ने आज रसोई गैस के दाम में 50 रुपये की बढ़ोतरी की है। जिसका कांग्रेस विरोध करती है और केन्द्र सरकार से मांग करती है कि रसोई गैस के दाम कम किए जाएं। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने गैस सब्सिडी को खत्म करके गरीब व मध्यम वर्ग पर कुठाराघात किया है। 2012-13 में कांग्रेस सरकार में एलपीजी सब्सिडी 39,558 करोड़ थी।सुरजेवाला ने कहा कि वर्ष 2013-14 में कांग्रेस सरकार ने 46,458 करोड़ गैस सब्सिडी दी लेकिन मोदी सरकार ने 2015-16 में 18 करोड़ रुपये और 2016-17 से गैस सब्सिडी जीरो कर दिया है। इस बढ़ती महंगाई से जनता परेशान है लेकिन केन्द्र सरकार को कोई परवाह नहीं है।वहीं कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने भी आज रसोई गैस के बढ़े दाम को कर पार्टी मुख्यालय पर गैस सिलेंडर पर माला चढ़ाकर और सब्जियों के समक्ष अगरबत्ती जलाकर कर केन्द्र सरकार के प्रति विरोध प्रकट किया। इस दौरान खेड़ा ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि जिस तरह से गैस के दाम बढ़ाए जा रहे हैं उससे जनता परेशान है बीते दिनों सरकार ने कमर्शियल गैस के दाम में भी 102 रुपये की बढ़ोतरी की थी।

उल्लेखनीय है कि सरकार ने घरेलू सिलेंडरों के दाम में आज 50 रुपये की बढ़ोतरी की है। दिल्ली में आज से घरेलू सिलेंडर की कीमत 999.50 रुपये तक पहुंच गई है।



0 views0 comments