कश्मीर के एकजुटता दिवस पर पाकिस्तान में हुआ ड्रामा


इस्लामाबाद । पाकिस्तान में कश्मीर एकजुटता दिवस मनाया गया। इस मौके पर देश भर में हुए आयोजनों में भारत को निशाने पर लेते हुए कश्मीरियों के प्रति समर्थन जताने की बात कही गई। आयोजनों में कश्मीरियों पर अत्याचार का विरोध करते हुए उनके प्रति एकजुटता दिखाई गई और उनके आत्मनिर्णय के अधिकार का समर्थन किया गया।

पाकिस्तान में हर साल पांच फरवरी को कश्मीर एकजुटता दिवस मनाया जाता है। इस दिन देश में सार्वजनिक अवकाश रहता है। भारत द्वारा अगस्त 2019 में जम्मू-कश्मीर को दिए गए विशेष दर्जे को वापस लेने के कारण इस बार इस दिवस पर सरकार की तरफ से विशेष जोर दिया गया।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) की संसद के विशेष सत्र को संबोधित करते हुए कहा, भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पांच अगस्त 2019 को जो गलती की थी (जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को रद्द करना), उससे मुझे पूरा यकीन है कि अब कश्मीर आजाद हो जाएगा। इससे पहले कश्मीर में जो जुल्म हो रहा था, उस पर दुनिया का ध्यान नहीं जा रहा था। लेकिन पांच अगस्त 2019 के भारतीय फैसले के बाद पूरी दुनिया का ध्यान कश्मीर मुद्दे की तरफ गया है।

0 views0 comments