कच्चे तेल की कीमतों में लगातार कमी के बावजूद बढ़ रहे दाम

केन्द्र और मध्यप्रदेश सरकार कर रही तानाशाही

कांग्रेसजनों ने लगाए मोदी और शिवराज के विरोध में नारे


सीहोर। देश में लगातार डीजल और पेट्रोल के दाम में हो रही वृद्धि के विरोध में इछावर विधानसभा के अनेक कांग्रेसजनों ने एसडीएम कार्यालय में मोदी सरकार और मुख्यमंत्री शिवराज के विरोध में नारे लगाकर तहसीलदार को ज्ञापन सौंपकर तत्काल मूल्य वृद्धि वापस लेने की मांग की। इस मौके पर कांग्रेस नेता बृजेश पटेल ने बताया कि पेट्रोल एवं डीजल की कीमत लगातार बढ़ाई जा रही है। सरकार के पास राजस्व का कोई साधन नहीं है, इसलिए पेट्रोल और डीजल की कीमत बढ़ा रही है। डीजल-पेट्रोल के दाम में हो रही वृद्धि से महंगाई और बढ़ेगी। इस वक्त लॉक डाउन खुलने के बाद डीजल और पेट्रोल की मांग बढऩे लगी है, ऐसे में केन्द्र और प्रदेश की भाजपा सरकार दाम में वृद्धि कर रही है। डीजल-पेट्रोल के दाम पर सरकार का नियंत्रण नहीं है, जबकि कच्चे तेल की कीमतों में लगातार कमी आ रही है। इसके बावजूद भी देश में डीजल-पेट्रोल की कीमतों में लगातार वृद्धि हो रही है। जिससे आमजन परेशान है, उन्होंने कि लॉक डाउन के कारण पिछले तीन महीनों से जनता और किसान परेशान है, इसके बावजूद डीजल-पेट्रोल के बढ़ते दाम पर रोक नहीं लगना चिंता का विषय है। उन्होंने इस पर तत्काल रोक लगाने की मांग की है और चेतवानी दी है कि केन्द्र सरकार डीजल-पेट्रोल के दामों में कमी नहीं करेंगी तो जिले भर में मोदी सरकार के विरोध में प्रदर्शन किया जाएगा। ज्ञापन देने वालों में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुनील चांडक बृजेंद्र तिवारी, हरगोविंद सिंह राजा मंसूरी नरेंद्र मकरईया लाला भाई अब्दुल वहीद रजत पटेल धूम सिंह जगदीश परमार जुनेद सोनू खान एवं समस्त कांग्रेस साथी उपस्थित थे।

0 views0 comments