• dainik kshitij kiran

और अच्छी मेहनत कर साफ्टवेयर इंजिनियर बनना-इशिता अग्रवाल

हाेशंगााबाद। मैं आगे की पढ़ाई में और अच्छी मेहनत करके साफ्टवेयर इंजिनियर बनना चाहूंगी। यह बात समेरिटंस स्कूल की टापर छात्रा इशिता अग्रवाल ने अपने मम्मी पापा के साथ चर्चा में कहा। इशिता का कहना है कि वर्तमान समय में इंजिनियर बड़ी संख्या में हो रहे हैं लेकिन मेरी इच्छा है कि मैं इंजिनयर के क्षेत्र में भी कुछ नया कर सकूं। जिससे देश हित में नए नए रोजगार के अवसर बन सके। क्योंकि देश में बेरोजगारी की एक बड़ी समस्या है। पढाई के संबंध में उन्होने बताया कि वह प्रतिदिन पांच छह घंटे पढ़ाई करती थी। ट्यूशन को ज्यादा पसंद नहीं करती लेकिन आखिरी के एक माह में मैं भी कोचिंग की है। मुझे मेरी मां से बहुत सीखने को मिलता है। वे कहती हैं कि कड़ी मेहनत करने वाले को सही दिशा मिलती है। लगातार रटते रहने की बजाय कुछ देर तक मन लगाकर पुस्तकें पढ़ना पंसद हैं। स्कूल में जब शिक्षक पढाते हेैं तो पूरा मन लगाकर ध्यान देती थी। इस कारण आज मुझे यह सफलता मिली है। इस सफलता का पूरा श्रेय माता पिता के साथ ही स्कूल के प्राचार्य सर आशुतोष शर्मा, कमल सर, और क्लास टीचर को देना चाहूंगी। कक्षा 10 वीं आने वाले बच्चों को यह सहाह दूंगी कि जब परीक्षा आए तब आखरी महिने में ही पढ़ाई करना जरूरी नहीं है हर महिने बल्कि लगातार पढ़ाई करते रहना चाहिए।


0 views0 comments

Recent Posts

See All

बेकाबू कार ने बाइक को टक्कर मारी, दो घायल

सीहोर। भोपाल-इंदौर हाईवे पर अंधाधुंध गति से दौड़ रही एक बेकाबू कार ने बाइक को पीछे से जोरदार टक्कर मार दी। जिसमें दो साथी गंभीर रूप से घायल हो गए। जिन्हें उपचार के लिए 108 एंबुलेंस से अस्पताल भेजा गया