उमरान मलिक की भूमिका खुद को गेंद से अभिव्यक्त करने की है : मूडी


मुंबई,। सनराइजर्स हैदराबाद के तेज गेंदबाज उमरान मलिक अपनी तेज गेंदों की वजह से चर्चा का विषय बने हुए हैं और मुख्य कोच टॉम मूडी ने कहा कि जम्मू कश्मीर के इस युवा को गेंद से खुद को अभिव्यक्त करने की पूरी आजादी दी गयी है।

श्रीनगर के 22 वर्षीय गेंदबाज ने इस इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में लगातार 145 से 150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी की है। उन्होंने शनिवार को चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ आईपीएल इतिहास के में सबसे तेज गेंद फेंकी जो 153.1 किमी प्रति घंटे की रफ्तार की थी। लेकिन उन्होंने इस दौरान काफी रन लुटाये हैं। उन्होंने पांच मैचों में 173 रन देकर पांच विकेट झटके हैं। मूडी हालांकि इससे चिंतित नहीं हैं। उन्होंने कहा, आखिर, जब आप इस प्रारूप में 150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करते हो तो आप ऐसी उम्मीद नहीं कर सकते कि आप रन नहीं लुटाओगे। वह विकेट के पीछे काफी रन देता है। लेकिन ऐसा नहीं है कि उसे मैदान में स्मैश किया जा रहा है या फिर कवर पर। कोच ने शुक्रवार को कोलकाता नाइट राइडर्स पर सात विकेट की जीत के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, इसलिये आपको उसकी शैली की गेंदबाजी को स्वीकार करना होगा। उसकी भूमिका दौडक़र खुद को अभिव्यक्त करने की है और अपनी शैली की गेंदबाजी करने की है।

उन्होंने कहा, हम स्वीकार करते हैं कि वह जिस तरह की गेंदबाजी करता है, वह रन लुटायेगा ही लेकिन हम उसे विकेट चटकाते हुए देखना चाहते हैं।



0 views0 comments