उदयपुर-अहमदाबाद रेलवे ट्रैक को उड़ाने की साजिश नाकाम, पीएम ने 13 दिन पहले किया था उद्घाटन

उदयपुर , (आरएनएस)। उदयपुर-अहमदाबाद नए रेलवे ट्रैक को उड़ाने की बड़ी साजिश रची गई थी लेकिन यह नाकाम हो गई। इस नए ट्रैक पर रात को विस्फोट से उड़ाने की कोशिश से हड़कंप मच गया। जानकारी के अनुसार विस्फोट में डेटोनेटर का उपयोग किया गया। जांच के लिए मौके पर एटीएस की टीम पहुंच गई है। घटना स्थल के दोनों ओर से ट्रेन की आवाजही बंद है। बता दें, 13 दिन पहले प्रधानमंत्री मोदी ने उदयपुर-अहमदाबाद रेलवे लाइन की शुरुआत की थी।

स्थानीय ग्रामीणों की सजगता से इस नए रूट पर बड़ा हादसा टल गया। सूत्रों के मुताबिक घटना बीती देर रात सलूम्बर मार्ग पर केवड़े की नाल में ओढ़ा रेलवे पुल की है। यहां गत रात 10 बजे ग्रामीणों को आसपास धमाके की आवाज सुनाई दी। इसके बाद कुछ युवा तुरंत पटरी पर पहुंचे। वहां कि हालत सभी देख दंग रह गए। उन्होंने बताया कि रेलवे लाइन पर बारूद पड़ा था। ऐसा लगता है जैसे रेलवे पुल को उड़ाने की साजिश की गई है।

पटरियां कई जगह से टूट चुकी हैं। पुल पर लाइन से नट-बोल्ट भी गायब मिले। ट्रैक पर लोहे की पतली चादर भी उखड़ी हुई मिली। उदयपुर के पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा ने इस घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि एफएसएल टीम मौके पर है। जांच के बाद ही सही स्थिति का पता लग पाएगा। रेलवे अजमेर मंडल के जनसंपर्क अधिकारी अशोक चौहान ने बताया कि घटना हुई है। जांच जारी है। घटनास्थल के दोनों ओर ट्रेनों को रोक दिया गया है।

1 view0 comments