आर्थिक तंगी झेल रही गौशालाएं, अठारह माह से नहीं मिला अनुदान


खंडवा, (ए)। जिले के गौशालाओं के संचालक बुधवार को कलेक्टर कार्यालय पहुंचे और अपनी मांगों से जुडा एक ज्ञापन सौंपा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के नाम दिए गए ज्ञापन के मध्यम से कहा गया कि गौभक्तों की सरकार में गौ माता दुखी है। गौशालाओं के संचालन के लिए 18 माह से अनुदान प्राप्त नहीं हुआ है, गौशालाओं पर लगातार कर्ज ब? रहा है। संचालकों ने बताया कि भूसे का भाव हर वर्ष ब? रहा है और गौचर की जमीन भी शासन द्वारा उपलब्ध नहीं कराई गई। ऐसी स्थिति में गौशालाओं को बंद करना पडेगा और गौवंश स?को पर आ जाएगा। गायें कत्लखानों तक पहुंच जाएगी। जल्द ही इन मांगों का निराकरण नहीं हुआ तो गौभक्त आंदोलन करने को बाध्य हो जाएंगे। अठारह माह का अनुदान और भूमि का आवंटन जल्द हो मुख्यमंत्री से यही मांग है। यह ज्ञापन गौ एवं गौशाला उत्थान संगठन के बैनर तले दिया गया। इस दौरान रामचंद्र मौर्य, सुखदेव बाबा गंगा गौशाला, भूपेंद्र सिंह चौहान, आशीष चटकेले, प्रदीप शर्मा, सुनील यादव,यशवंत सिलावट सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

0 views0 comments