आम आदमी का बिगड़ गया घर का बजट अब मसाले 71 फीसदी महंगे

भोपाल, (आरएनएस)। आम आदमी की कमर तोड़ महंगाई ने हालत खराब कर दी है। पहले डीजल पेट्रोल के दाम फिर सब्जी, अनाज और अब रसोई का बजट बिगाडऩे मसाले भी आसमान छूने लगे हैं। महंगाई से घर का बजट पूरी तरह से बिगड़ गया है। ईंधन के दाम बढऩे से भाड़ा महंगा हो गया जिससे 2022 में अब तक हल्दी, जीरा और धनिया 25 प्रतिशत तक महंगे हो गए हैं। एक साल पहले के मुकाबले इन मसालों के भाव 71 प्रतिशत तक बढ़ गए हैं। कोरोना संक्रमण के बाद से पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार वृद्धि हो रही है। इसलिए खाद तेल के साथ अन्य खाद्य सामग्री की कीमतों में लगातार उछाल देखने को मिल रही है। अब यह महंगाई रोजाना रसोई में इस्तेमाल होने वाले मसालों तक पहुंच गई है। बताया जा रहा है कि राजस्थान सहित गुजरात, कर्नाटक, महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश में फसल उत्पादन कमजोर है। बकाया स्टाक भी मांग के मुकाबले कम है। राजस्थान और मध्यप्रदेश में धनिया की फसल 45 प्रतिशत कमजोर है। सौंफ और अजवाइन की पैदावार भी कमजोर है, इसका असर कीमतों पर आना तय है। एक महीने में हल्दी के भाव 100 रुपये प्रति किलोग्राम तक बड़े हैं। वहीं एक महीने के अंदर मोटी सौंफ में 40 रुपये किलो, दालचीनी में 50 रुपये, जीरा में 80 रुपये, धनिया में 50 रुपये और हल्द में 100 रुपये प्रति किलोग्राम का उछाल आया है जबकि इलायची की कीमत में 40 रुपए की गिरावट आई है। वर्तमान में शादी विवाह का सीजन भी शुरु हो गया है।

जिसके चलते बाजार में मसालों का भाव में तेजी देखने को मिल रही है।


2 views0 comments