आडवाणी के बरी होने पर बाटी मिठाई

सीहोर। भाजपा के नेता मान सिंह पवार के मंडी स्थित निवास पर भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा 6 दिसंबर 1992 अयोध्या में बाबरी मस्जिद गिराए जाने पर भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी पर कारसेवकों को भडक़ाने का आरोप लगाते हुए केस चलाया था। उसमें आडवाणी सहित उमा भारती, विद्युत धारा जय भान सिंह पवैया जैसे भारतीय जनता पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं को कोर्ट द्वारा बरी किए जाने पर हर्ष व्यक्त करते हुए एक दूसरों को बधाइयां दी तथा मिठाई बांटी। इस अवसर पर मान सिंह चौहान ने बताया कि 6 दिसंबर 1992 को मैं भी आयोध्या गया था वहां हमारे नेताओं द्वारा किसी भी प्रकार के भडक़ाऊ भाषण नही दिए थे और ना ही मस्जिद तोडऩे का आदेश दिया था सभी नेताओं ने कारसेवकों को रोकने का प्रयास किया व रोकने के लिए गुहार लगाई। आक्रोशित जनता ने बाबरी मस्जिद को गिरा दिया था, उसको लेकर 28 साल तक आडवाणी सहित कई भारतीय जनता पार्टी के नेताओं पर कोर्ट में केस चला, जिन्हें आज कोर्ट द्वारा बाइज्जत बरी कर दिया गया। इस अवसर पर बधाई व शुभकामनाऐं देने वालों में मानसिंह पवार, प्रदीप बिजोरिया, एडवोकेट सुरेश योगी, डॉ. पूरन सिंह राठौड़, डॉ नारायण प्रसाद गुप्ता, अनिल शर्मा, राजा मेवाड़ा, निर्मल पवार, आतिश शुक्ला, रितेश महेश्वरी, जगदीश सोनी, जगदीश शर्मा, फुल सिंह रजक, हरीश राठौर, ओम प्रकाश राठौड़, श्रीमती विद्या बिजोरिया, श्रीमती मानसी पगारे आदि लोग उपस्थित थे।

0 views0 comments