आईएनएस विक्रांत घोटाले को लेकर राज्यसभा में हुआ हंगामा

नई दिल्ली (आरएनएस)। राज्यसभा में आज शिवसेना और कांग्रेस पार्टी के सदस्यों ने विमान वाहक पोत आईएनएस विक्रांत से संबंधित एक सौ करोड़ रुपये के घोटाले को लेकर भारी शोरगुल और हंगामा किया जिसके कारण सदन की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई। शून्यकाल के दौरान शिवसेना के संजय राउत और अनिल देसाई ने इस मामले को उठाया और सदन के बीच में आ गए। इसके बाद शिवसेना तथा कुछ अन्य सदस्य अपनी सीट के आगे आ गये और शोरगुल करने लगे । शिवसेना की प्रियंका चतुर्वेदी ने नियम 267 के तहत इस घोटाले पर चर्चा कराने की मांग को लेकर नोटिस दिया था।

नायडू ने कहा कि विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खडग़े ने नियम 267 के तहत एक नोटिस दिया था जिस पर चर्चा की अनुमति नहीं दी गई है । वह यदि इस मुद्दे को बाहर उठाना चाहते हैं तो उठाए। इसी दौरान तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ ब्रायन ने महंगाई पर चर्चा कराने की मांग की।

नायडू ने कहा कि सदन की बैठक का आज अंतिम दिन है इसलिए सदस्य सदन की कार्यवाही चलने दें । उन्होंने हंगामा कर रहे सदस्यों को कहा कि आप यहां से यही संदेश देना चाहते हैं । उन्होंने सदस्यों को चेतावनी देते हुए कहा कि जो सदस्य नारेबाजी कर रहे हैं उनके नाम बुलेटिन में छापे जाएंगे। इसके बाद भी सदस्यों का हंगामा जारी रहने पर सभापति ने सदन की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करने की घोषणा कर दी।


0 views0 comments