अमेरिकी अरबपति जेफरी ऐप्स्टेन ने किया था सूइसाइड

-पोस्टमॉर्टम में खुलासा


न्यूयॉर्क,। जेल में अपनी बैरक में मृत पाए गए अमेरिकी अरबपति जेफरी ऐप्स्टेन के पोस्टमॉर्टम में खुदकुशी की पुष्टि हुई है। एक कोरोनर ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। मृत्यु के कारणों की जांच करने वाले सरकारी अधिकारी को कोरोनर कहते हैं। गौरतलब है कि छह दिन पहले 66 वर्षीय एपस्टीन न्यू यॉर्क की उच्च सुरक्षा वाली एक जेल में मृत पाया गया था। वह लड़कियों की तस्करी करने का आरोपी था जिनमें 14 साल की लड़कियां भी शामिल थीं। न्यू यॉर्क की मुख्य चिकित्सा अधिकारी बारबरा सैम्पसन ने एक बयान में कहा कि पोस्टमॉर्टम की पूरी रिपोर्ट समेत सभी सूचनाओं की सावधानीपूर्वक समीक्षा करके यह पता चला कि ऐप्स्टेन ने ही खुद को मारा। न्यू यॉर्क टाइम्स ने अधिकारियों के हवाले से बताया कि ऐप्स्टेन ने फांसी लगाने के लिए एक चादर का इस्तेमाल किया। यह रिपोर्ट तब आई है जब अमेरिकी मीडिया ने बताया कि पोस्टमॉर्टम की प्रांरभिक जांच से पता चला कि एपस्टीन की गर्दन की हड्डियां टूटी हुई थी। एक समय में ब्रिटेन के प्रिंस एंड्रयू और अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप का दोस्त माने जाने वाले अरबपति ऐप्स्टेन पर नाबालिगों की तस्करी के आरोप थे। अभियोजकों के अनुसार, ऐप्स्टेन ने 2002 और 2005 के बीच मैनहट्टन और फ्लॉरिडा में अपने घर में दर्जनों किशोरियों का यौन शोषण किया। हालांकि, उसने आरोपों से इनकार कर दिया था। ऐप्स्टेन के वकीलों ने शुक्रवार को कहा कि वे चिकित्सा अधिकारी की जांच से संतुष्ट नहीं हैं और उसकी मौत के मामले में खुद जांच करेंगे। साथ ही उन्होंने जेल से विडियो फुटेज देखने की मांग की। एफबीआई और न्याय विभाग इस बात की जांच कर रहे हैं कि कुछ वक्त पहले आत्महत्या की कोशिश करने के महज कुछ सप्ताह बाद कैसे एक हाई-प्रोफाइल कैदी खुदकुशी कर सका।



0 views0 comments