अन्धे कत्ल का पर्दाफाश, दोस्त ही निकला दोस्त का हत्यारा

उधारी के पैसे को लेकर हुआ था विवाद

स्वयं घटना स्थल पर पहुंचे थे पुलिस अधीक्षक एसएस चौहान


सीहोर। थाना मण्डी के अन्तर्गत ग्राम गुड़भेला व जताखेड़ा का काकड भोपाल इदौर हाईवे भगवत सिंह के खेत के रोड किनारे नाला में मिली अज्ञात लाश की गुत्थी सुलझाने एवं आरोपियो को गिरफतार करने हेतु पुलिस अधीक्षक एसएस चौहान द्वारा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक समीर यादव एवं नगर पुलिस अधीक्षक (पुलिस) तुषार सिंह के मार्गदर्शन मे थाना प्रभारी मण्डी डीएसपी अर्चना अहीर के नेतृत्व में विशेष टीम का गठन किया गया। गठित टीम द्वारा अज्ञात आरोपियों की पतारसी कर दो आरोपियो को गिरफ्तार करने मे सफलता प्राप्त की गई। पुलिस अधीक्षक श्री चौहान द्वारा टीम के अधिकारी और कर्मचारियों को नगद परस्कार से पुरस्कृत करने की घोषणा की हैंं। उल्लेखनीय है कि एक अगस्त को सूचना प्राप्त हुई कि ग्राम गुड़भेला व जताखेड़ा का काकड भोपाल इदौर हाईवे भगवत सिहं के खेत के रोड किनारे नाला एक शव पडा है कि सूचना पर रवाना होकर मौके पर पहुचकर तस्दीक की जिस पर थाना मण्डी मे मर्ग कायम कर जाँच मे लिया गया मर्ग जाँच के दौरान पिछले तीन अगस्त को अज्ञात मृतक की पहचान जितेन्द्र चावड़ा पिता जगन्नाथ चावड़ा जाति नाथ उम्र 30 साल निवासी जावर के रूप में की गई मृतक की शिनाख्तगी के पश्चात प्रकरण से संबंधित प्रत्येक साक्ष्य व साक्षियों से बारीकी से पूछताछ की गई जाँच पर प्रथम दृष्टिया मामला मारपीट कर हत्या करने का पाया जाने से अज्ञात आरोपी के विरूद्ध भादवि. की धारा 302,201 के तहत मामला कायम कर विवेचना में लिया गया। इसके पश्चात मामले मे गठित टीम द्वारा काफी मेहनत और मशक्कत बाद आरोपियों की पतासाजी कर मामले में आरोपी दुर्गेश मालवीय पिता रमेश मालवीय निवासी इन्दौर नाका दशहरा वाला बाग सीहोर को गिरफ्तार कर सख्ती से पूछताछ की गई जिन्होने मामले मे मृतक की हत्या करना स्वीकार किया।

उधारी के पैसे को लेकर हुआ था विवाद

जानकारी के अनुसार आरोपी दुर्गेश मालवीय निवासी दशहरा बाग सीहोर ने घटना 28 जुलाई को मृतक जितेन्द्र चावड़ा के साथ में खाना खाकर आऱोपी दुर्गेश अपनी मोटर साईकिल से मृतक जितेन्द्र चावड़ा को घर छोडऩे के लिये जा रहा रास्ते में दोनों का दस हजार रूपये की उधारी पैसे को लेकर विवाद हुआ था आरोपी ने मृतक जितेन्द्र चाबड़ा का गला दबाकर उसकी हत्या कर दी एवम मृतक जितेन्द्र के चेहरे पर पेट्रोल डाल कर आग लगा दी जिससे मृतक का चेहरा पहचाना ना जा सके आरोपी दुर्गेश मालवीय पिता रमेश मालवीय निवासी इन्दौर नाका दशहरा वाला बाग सीहोर द्वारा लाश को ग्राम गुड़भेला व जताखेड़ा का काकड भोपाल इदौर हाईवे भगवत सिहं के खेत के रोड किनारे नाला छिपा दिया आरोपी दुर्गेश ने अपने वार्ड में रहने वाले रवि यादव को बताया और कहाँ कि मेंने एक व्यक्ति की हत्या कर दी है आरोपी दुर्गेश अपने वार्ड में रहने वाले रवि यादव को साथ लेकर घटना स्थल लेकर गया रवि यादव को हत्या के सम्बध में जानकारी थी जो रवि यादव द्धारा छिपाया गया जिसे रवि यादव को सह आऱोपी बनाया गया। पुलिस ने दुर्गेश मालवीय पिता रमेश मालवीय निवासी इन्दौर नाका दशहरा वाला बाग सीहोर और रवि यादव पिता महेश यादव उम्र 39 साल निवासी यादव मोहल्ला कस्बा सीहोर। उक्त मामले में तुषार सिंह, नगर पुलिस अधीक्षक, थाना प्रभारी मंड़ी उपुअ अर्चना अहीर, अर्जुन जायसवाल, विनिता विश्वकर्मा सुरेश प्रजापति, लखन धाकड़, भूपेन्द्र सिहं, अरूण सिहं आऱती राजपूत, मीना घोडक़े, उर्मिला सूयऱ्वंशी मीना घोडक़े आरक्षक सुशील साल्वे, आरक्षक शैलेन्द्र राजपूत की सराहनीय भूमिका रही।

1 view0 comments