अगर हम सोचते कि कोरोना से अकेले जीत लेंगे, तो हम विफल हो जाते : केजरीवाल


नईदिल्ली । दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मीडिया से प्रेस कांफ्रेंस में कहा, 1 जून को दिल्ली में 4,100 बेड थे, आज 15,500 बेड हैं। 1 जून को दिल्ली में केवल 300 आईसीयू बेड थे और आज 2,100 आईसीयू बेड हैं, जिनमें से 1,100 खाली हैं। जिसकी वजह से आज लोगों में यह विश्वास है कि अगर उन्हें अस्पताल में भर्ती होना पड़ा, तो बेड की कोई कमी नहीं होगी।

अगर दिल्ली सरकार ये सोचती कि हम कोरोना से अकेले जीत लेंगे, तो हम विफल हो जाते। इसलिए हम केंद्र सरकार, गैर सरकारी संगठनों और धार्मिक संगठनों सहित सभी के पास गए। आज मैं भाजपा और कांग्रेस सहित सभी पार्टी को धन्यवाद करता हूं।

अनुमान के अनुसार, दिल्ली में 15 जुलाई तक 2.25 लाख केस होने थे, लेकिन सबके प्रयासों के बाद आज के मामले अनुमान के हिसाब से आधे हैं। आज हमारे पास 1.15 लाख मामले हैं, अनुमान के अनुसार अस्पतालों में 34000 बेड की जरूरत होगी लेकिन आज 4000 बेड की जरूरत है।

0 views0 comments